Boss Ke Bete Se Chud Gayi

Boss Ke Bete Se Chud Gayi

मेरा नाम महक है में एक नर्स हूँ और एक प्राइवेट नर्सिंग होम मे काम करती हूँ में अनमेरीड हूँ और उम्र 35 साल है और मेरा फिगर काफ़ी अट्रॅक्टिव है जो 34-33-32 है कलर एकदम साफ और मे पेसे से नर्स हूँ इसलिये हमेंशा साड़ी ही पहनती हूँ पर वाइट ज़रूरी क्योकी में नर्स हूँ इसलिये मुझे रात को भी ड्यूटी करनी पड़ती है और में रात को अक्सर साड़ी या गाउन मे सोती हूँ और मेरे बॉस का घर भी वही नर्सिंग होम के पीछे है तो रात को वो और उनका बेटा आराम से नर्सिंग होम आ जा सकते है बात आज से 2-4 साल पहले से शुरू हो चुकी थी पर कभी पूरी नहीं हुई थी जो पूरी अब 1 महीने पहले हुई.

मेरे बॉस का बेटा उम्र मे 22-23 साल का होगा जो काफ़ी सुन्दर है वो मुझे बराबर घूरता था मेरी जवानी के लटके झटके देखता था और कई बार मुझे अकेले देख कर मेरे सामने ही अपनी पेंट को रगड़ता था में समझ जाती पर कोई हरकत नही करती थी कई बार वो रात को जब में रुकती तो मुझे छेड़ता मतलब मेरे सोने के बाद ज़रूर आता और मुझे चुपचाप किस करने की कोशिश करता था एक दिन मैने गाउन पहना हुआ था और अंदर ब्रा नही पहनी थी वो उस रात भी आया और मुझे सोया देख कर मेरे गालो पर किस करने लगा पर में सोई नही थी मुझे पता था वो मुझे किस कर रहा है पर मैने कोई हरकत नही की उसकी हिम्मत और बड गई वो मेरे बूब्स चूसने लगा मैने करवट बदल ली फिर वो थोड़ी देर रुक कर फिर मेरी पीठ को किस करने लगा मेरी गाउन को कंधे के उपर के हिस्से को सरका कर मेरे शोल्डर को किस करने लगा मैने फिर करवट बदल ली.

अब मेरा सीना आधा से ज़्यादा दिख रहा था अब वो अपने मोबाइल की लाइट मे मेरे बूब्स देखने लगा और उसे चूसने लगा मुझे भी चुदाने की बहुत इच्छा हुई पर में सोचती की उसे ही ऑफर करने दूँ पर वो तो डरपोक था इतना करके मूठ मारने चला गया बात ये वाली यही ख़त्म हो गई मैने कई बार नोटीस किया था की में जब पिंक कलर की साड़ी पहनती तो वो ज़्यादा आउट ऑफ़ कंट्रोल हो जाता था इसलिये मुझे आज वहा रुकना था और में पिंक साड़ी पहन के गई जिसका लो बेक कट ब्लाउज था.

उस दिन मैने उसे कई बार लाइन दी पर वो मुझे डाइरेक्ट कहने की हिम्मत नही कर रहा था फिर रात को में सोने चली गई थोड़ी देर बाद वो आया और मुझे किस करने लगा मेरी चेक्स पर फिर लिप्स पर किस किया में जाग रही थी पर किसी तरह की प्रतिक्रिया मैने नही की मेंने करवट लेने के बहाने से अपना पल्लू थोड़ा सरका दिया जिसमे से उसे मेरे ब्लाउज के उपर के और नीचे के दो बटन खुले दिखे जिससे थोड़ी सी मेरी ब्रा सफेद कलर की दिख रही थी वो बार बार मेरी चूची को छू रहा था मुझे भी बड़ा मज़ा आ रहा था अब मैने अपने पेट के उपर से साड़ी हटा ली थी जिससे मेरा गोरा पेट एकदम साफ दिखाई दे रहा था मैने चुपके से आँख खोल के देखा तो उसका हाफ़ पेंट टेंट का रूप ले चुका था उसने मेरे पेट पर किस किया.

अब उसने मेरे ब्लाउज के 1-2 बटन खोल दिये पर मैने उसे कुछ नही कहा और सोने का नाटक जारी रखा फिर उसने पीछे से मेरी ब्रा का हुक भी खोल दिया और आगे हो कर मेरी ब्लाउज के पूरे बटन खोल दिये अब उसने मेरी ब्लाउज और ब्रा उतारनी चाही पर मैने झट से करवट बदल दी उसकी तो गांड ही फट गई उसने मुझे फिर किस करना चालू किया में कंट्रोल से बाहर हो रही थी क्योकी एक तो उम्र मेरी 35 और दूसरा अनमेरिड थी इसलिये मैने उसे बोला राम क्या कर रहे हो वो झट से भागना चाहा मैने थोड़ा गुस्से से बोला राम इधर आओ क्या कर रहे थे वो डर के मारे कुछ नही बोल पा रहा था मैने बोला सच बताओ वरना बॉस को बता दूँगी उसने रिक्वेस्ट की प्लीज़ मत बताना अब तुम तो जान ही गई हो क्या कर रहा था तो पूछ क्यों रही हो प्लीज़ मुझे माफ़ कर दो में अपने आप को कंट्रोल नही कर पाया इसलिये हुआ यह और सॉरी कहने लगा.

मैने बोला अरे इसमे इतना डरने की कौन सी बात है में तो सब जानती हूँ तुम मेरे सोते समय क्या क्या करते हो पर गुस्सा उससे नही इस बात से हूँ की तुमने मुझे क़भी बोला नही में भी तुम्हारे साथ ऐसे ही प्यार करना चाहती हूँ और फिर उसने झट से मुझे पकड़ लिया और बिस्तर पर लेटा कर मुझे किस करने लगा वो मेरी चूची को अब बुरी तरह से दबा रहा था में भी उसे किस कर रही थी मैने उसकी टी शर्ट और बनियान उतार दी थी और पेंट तो खुद ही उसके लंड के खड़े होने की वजह से फटने को थी अब वो मेरी ब्लाउज हटा कर मेरी ब्रा और ब्लाउज उतार कर मेरी चूची को चूस रहा था मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था वो धीरे धीरे मेरे पेट की तरफ बड रहा था और मेरी नेवेल पर किस कर रहा था कभी चूची को चूस रहा था मैने बोला राम में कब से तुम्हे लाइन देती हूँ पर तुम हो जो समझते ही नही.

वो बोला अब समझ गया ना महक अब सब ठीक हो जायेगा अब हम रोज़ ये खेल खेलेंगे इतना कहते ही उसने मेरी साड़ी उतार दी और पेटीकोट का नाडा खींच कर मुझे सिर्फ़ पेंटी मे ले आया मैने वो भी झट से उतार दी और उसने पेंट उतार दिया और अपना लंड मेरी चूत के अंदर पेल दिया में तो दर्द के मारे रोने लगी पर उसने मेरा मुँह अपने हाथ से दबा दिया वो मुझे झटके मारे जा रहा था और मे सातवे आसमान मे पहुँच चुकी थी फिर उसने 1 ट्रिप होने के बाद फिर मेरी चूची को चूसना शुरू किया और लंड टाइट होते ही उसने मेरी दोनो चूची के बीच अपना लंड डाल कर चूची की चुदाई शुरू कर दी अब हम रोज़ जब भी में रात में रुकती हूँ तो वहाँ चुदाई करते है.

Be the first to comment

Leave a comment

Your email address will not be published.


*